About last evening – November 7, 2017

< 1 minute

हमारी कहानी उसी दिन ख़त्म हो गई,
जिस वक़्त हमारी नज़रें तुमसे मिली,
शायद इश्क़ हो गया है तुमसे,
वरना हर मुस्कराहट की वजह तुम ना होती।

Copyright © 2017, Aashish Barnwal,  All rights reserved.

Leave a Reply

%d bloggers like this:
Bitnami